शुक्रवार, 18 दिसंबर 2009

किसकी जात महान ?????????

बचपन से आज तक सुनता आया हूँ मेरा देश महान . और मानता भी आया हूँ महाराणा प्रताप , मंगल पांडे , झाँसी की रानी , भगत सिंह , मदन लाल धींगरा , वीर हकीक़त राय सभी की महानता को सविकारा और शहीदों और ऋषि मुनियों ने भारत को महान बनाया .दुनिया से अलग एक शांति और धर्म पर चलने का सन्देश दिया लेकिन अधर्म के खिलाफ लड़ने की शिक्षा भी दी . इन्ही की प्रेरणा पर भारतीय चलते आये है . लेकिन कुछ सालो से भारतीयों को एक रोग हो गया है वह रोग है जात पात का . इन् शहीदों ने किसी जाती विशेष के लिए अपने प्राणों की आहुति नही दी थी  लेकिन आज २१ सदी में जी रहा इन्सान शहीदों को भी जात पात में बाटना चाहता है . शहीदों की कुर्बानिया भारत माता की रक्षा के लिए उन्होंने दी . ताकि आने वाली पढ़ियो को एक आजाद हवा में साँस लेने का मोका   मिल सके . लेकिन आज भारतीय जात पात पर लड़ ही नही रहे बल्कि देश को कमजोर भी कर रहे है . हम पर कभी मुगलों तो कभी अंग्रेजो ने जुर्म ढहाया . और जब हम आजाद हुए तो नई गुलामी में चले गये उंच नीच की गुलामी . आजादी की लड़ाई सभी भारतीयों ने छुआ छुट जैसी बीमारियों को मिटाकर लड़ी थी . जभी हमें आजादी मिली . देश को बटने से टूटता है किसी भी जाती से पहले हम एक भारतीय है . कभी शेत्रो पर लड़ाई कभी भाषा पर और कभी जात पर . जात के नाम पर लाठिया निकल जाती है और लग जाते है  अपनों का खून बहाने  . इसलिए युवाओं में भी देशभक्ति की भावना  कम हो रही है और जाती भक्ति की भावना बढ़ रही है .  .  कोई भी इन्सान जो भारतीय है वो इसी मिटटी से बना है .   देश मज़बूत तभी होगा जब सभी भारतीय जात पात पर लड़ना छोड़ देश की तरक्की पर सोचेंगे

5 टिप्‍पणियां:

  1. arshiya jee kuch log bhi samjh gye to me samjhunga me sahi disha me likh rahaa hoo

    उत्तर देंहटाएं
  2. किसी भी प्रकार की गडबडी को समाप्‍त करने के लिए हम उससे संबंणित बातों का उन्‍मूलन ही कर दें .. बिना उन्‍मूलन के भी तो उसकी समस्‍या को सुलझाया जा सकता है !!

    उत्तर देंहटाएं
  3. सही कहा आपने । धन्यवाद और शुभकामनायें ये मशाल यूँ ही जलाये रखें

    उत्तर देंहटाएं
  4. विचारणीय व सामयिक पोस्ट लिखी है।धन्यवाद।

    उत्तर देंहटाएं

हर टिपण्णी के पीछे छुपी होती है कोई सोच नया मुद्दा आपकी टिपण्णी गलतियों को बताती है और एक नया मुद्दा भी देती है जिससे एक लेख को विस्तार दिया जा सकता है कृपया टिपण्णी दे